X Close
X
9907046471

अगर आप भी टाइट जींस पहनती है तो हो जाएं सावधान


मॉडर्न लाइफस्टाइल में स्टाइलिश दिखने के लिए लड़कियां नए से नए फैशन ट्रेंड को फॉलो करती हैं। वहीं, बात अगर टाइट फिटेड जींस की करें तो इसका फैशन पिछले कुछ सालों में काफी बढ़ा है। लड़कियां टाइट जींस पहनना खूब पसंद करती हैं क्योंकि इससे फिगर अच्छी दिखाई देती हैं लेकिन फैशनेबल दिखने की चाह में वो आप अपनी सेहत के साथ खिलवाड़ कर रही हैं। जी हां, परफेक्ट फिगर देने वाली यह जींस कैंसर, हार्ट अटैक जैसी गंभीर बीमारियों को न्यौता देती है। चलिए आपको बताते हैं कि टाइट जींस पहनने से आपको क्या-क्या नुकसान हो सकते हैं।

बांझपन का कारण बनती है टाइट जींस
जी हां, टाइट जींस पहनने से गर्भाशय का संकुचन और बांझपन का खतरा भी बढ़ता है। इस तरह की जींस पहनने से पेट पर काफी जोर पड़ता है, जो आगे चलकर समस्या खड़ी कर सकता है। ऐसे में बेहतर होगा कि आप ज्यादा टाइट जींस ना पहनें।

यूट्रेस इंफेक्शन
स्किन टाइट जींस पहनने से लड़कियां कम उम्र में ही यूट्रेस इंफेक्शन की शिकार हो रही हैं। शुरुआती स्टेज में लड़कियों को इस इंफेक्शन के बारे में मालूम नहीं चल पाता है। इसके चलते इलाज समय पर नहीं हो पाता और ट्यूब में स्थाई तौर पर ब्लॉकेज आ जाती है, जिससे आगे चलकर मां बनने में परेशानी पैदा करती हैं।

कमर दर्द की शिकायत
टाइट जींस पहनने से महिलाओं में कमर व पीठ दर्द से जुड़ी परेशानियां बढ़ती जा रही है। दरअसल, इससे मसल्स पर जोर पड़ता है और यह हिप जॉइंट्स के फ्री मूवमेंट में भी बाधा डालती है। इससे पीठ व रीढ़ की हड्डी में दर्द होना शुरू हो जाता है। इतना ही नहीं, इसके कारण महिलाओं में स्लिप डिस्क की समस्या भी बढ़ती जा रही है।

वेरिकोज वैन
इसके कारण वेरिकोज वैन की शिकायत भी काफी बढ़ रही है। टाइट जींस पहनने से पैरों की नसों में मौजूद वाल्व कमजोर होने पर नसे फैलने लगती है, जिससे गांठ बन जाती है। बता दें कि टाइट जींस पहनने के कारण 25% महिलाएं और 10% पुरुष इस बीमारी से प्रभावित हैं। इसके अलावा टाइट जींस पहनने से पैरों में ऐंठन की समस्या भी बढ़ सकती है।

दिल की बीमारियां
टाइट जींस पहनने का शौक आपको दिल की बीमारियों का शिकार भी बना सकता है। इससे खून का संचार रूक जाती है, जिससे दिल तक रक्त सही मात्रा में नहीं पहुंच पाता। इससे ना सिर्फ दिल के रोगों के साथ-साथ हार्ट अटैक और स्टोक का खतरा भी काफी बढ़ जाता है।

रोक देती है ब्लड सर्कुलेशन
इस तरह की जींस पहनने से थाइज में ब्लड सर्कुलेशन रुक जाता है और पैरों के पीछे का हिस्सा भी फूल जाता है, जिससे व्यक्ति बेहोश हो सकता है। हाल ही में ऐसे कई मामले सामने आ चुके हैं, जिसमें पीड़ित की जींस काटकर जान बचानी पड़ी है।

स्किन कैंसर का खतरा
रिसर्च के अनुसार, ऐसी जींस पहनने से स्किन कैंसर का खतरा भी काफी बढ़ जाता है। इतना ही नहीं, लंबे समय तक टाइट जींस पहनने वाली लोगों को डीवीटी की समस्या हो सकती है। इससे पैरों की नसों में ब्लड क्लॉट्स बन सकते हैं और साथ ही खून का दौरा भी धीमा हो जाता है।

टाइट जींस सिंड्रोम
टाइट जींस पहनने से पेट के निचले हिस्से की एक संवेदनशील नस प्रभावित होती है। इससे घुटनों और थाइज में जलन तक हो सकती है और यह उस एरिया को सुन्न भी कर देती है। इस सिंड्रोम से पैरों में दर्द और पाचन संबंधी शिकायत होने का भी खतरा रहता है।

पुरुषों के लिए भी हानिकारक
पुरुषों की सेहत के लिए भी टाइट जींस पहनना हानिकारक हो सकता है। दरअसल, इससे अंडकोष तक होने वाला रक्त-संचार रुकने के साथ ही अंडकोष में विकृति भी हो सकती है। जींस पहनने से रक्त-संचार की स्वाभाविक प्रक्रिया बाधित हो जाती है।

बरतें सावधानी
-अगर आपको टाइट जींस पहनना पसंद है तो इस बात का ख्याल रखें कि आप इसे 7-8 घंटे से ज्यादा ना पहनें।
-स्किन टाइट जींस पहनने के बाद अगर आप दिनभर खड़े रहने या बैठे रहने का काम करती हैं तो भी यह आपके लिए खतरे की घंटी है।
-कोशिश करें कि आप ऐसी जींस तभी पहने जब आपको एक ही जगह पर स्थिर ना रहना पड़ें।